स्वास्थ्य

कांकेर जिले में हाट-बाजार क्लिनिक योजना से सुदूर अंचल के ग्रामीणों को भी मिल रहा स्वास्थ्य सुविधाएं

दो वर्षों में 92 हजार से अधिक मरीजो का हाट-बाजारों में उपचार

दीपक पुड़ो ब्यूरो प्रमुख छत्तीसगढ़- छत्तीसगढ़ शासन द्वारा हाट-बाजार क्लिनिक योजना संचालित किया जा रहा है, जिसका लाभ ग्रामीणों को मिलने लगा है। हाट-बाजार क्लिनिक योजना से सुदूर अंचल के ग्रामीणों को भी स्वास्थ्य सुविधाये सुलभ हो रही है। हाट-बाजारों में दूर-दूर से ग्रामीण अपने दैनिक जीवन में उपयोग आने वाले सामग्रियों की खरीदी बिक्री करने आते हैं, साथ ही आसपास में मिलकर सुख-दुख की बातें भी करते हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा आदिवासी अंचलों में ग्रामीणों के बीच हाट बाजार के महत्व को देखते हुए मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना की शुरूआत किया गया, जिसके तहत हाट-बाजारों में स्वास्थ्य विभाग द्वारा शिविर लगाकर ग्रामीणों का निःशुल्क उपचार किया जा रहा है, साथ ही उन्हें निःशुल्क दवाईयां दी जा रही है तथा गंभीर बिमारी होने की स्थिति में हायर सेंटर को रिफर किया जा रहा है ताकि उनका समुचित ईलाज हो सके। कांकेर जिले के हाट-बाजारों में भी इस योजना अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग द्वारा शिविर लगाकर संक्रामक एवं गैर संक्रामक रोगों का निःशुल्क ईलाज किया जा रहा है एवं मरीजों को निःशुल्क दवाईयां दी जा रही है, साथ ही आवश्यक चिकित्सा परार्मश भी दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना के तहत कांकेर जिले के 112 हाट-बाजारों में स्वास्थ्य विभाग द्वारा कैंप लगाकर ग्रामीणों को सर्दी, खांसी, बुखार, शुगर, ब्लड प्रेशर, मधुमेह, मलेरिया जांच, गर्भवती महिलाओं की जांच, नेत्र विकार सहित मौसमी बीमारियो का निःशुल्क उपचार एवं चिकित्सा परामर्श दिया जा रहा है। जिलें में जून 2019 से अगस्त 2021 तक 92 हजार 910 मरीजों का निःशुल्क उपचार किया जा चुका है।कांकेर जिले में अंतागढ़ विकासखण्ड अंतर्गत 15, नरहरपुर में 20, चारामा विकासखण्ड में 21, भानुप्रतापपुर में 15, दुर्गूकोंदल में 12, कांकेर में 12 तथा कोयलीबेड़ा विकासखण्ड के 17 हाट-बाजारों में स्वास्थ्य शिविर आयोजित किया, मरीजो का निःशुल्क उपचार किया जाकर दवाईयां दी जा रही हैं। गंभीर बिमारी होने की स्थिति में मरीज को हायर सेंटर रिफर किया जाता है, चिकित्सा परार्मश व ईलाज की सुविधा प्रदान की जा रही है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close