Breaking

कलेक्टर ने प्राचार्यों की बैठक लेकर किया समीक्षा, खराब रिजल्ट पर जताया नाराजगी

आशीष परिहार कांकेर- कक्षा दसवीं एवं बारहवीं बोर्ड परीक्षा को दृष्टिगत रखते हुए विद्यार्थियों के शैक्षिक स्तर में सुधार के लिए कलेक्टर चन्दन कुमार के निर्देशानुसार जिले में जनवरी माह से कक्षा दसवीं एवं बारहवीं की प्री-बोर्ड परीक्षा आयोजित की जा रही है ताकि विद्यार्थी वार्षिक परीक्षा के लिए अच्छा तैयारी कर उत्कृष्ट रिजल्ट दे सकें। कलेक्टर चन्दन कुमार ने आज कांकेर, नरहरपुर एवं चारामा विकासखण्ड के हाईस्कूल व हायर सेकेण्डरी स्कूलों के प्राचार्यों की बैठक लेकर जनवरी माह में आयोजित की गई कक्षा दसवीं एवं बारहवीं की प्री-बोर्ड परीक्षा के परिणाम की समीक्षा करते हुए खराब रिजल्ट देने वाले विद्यालयों के प्राचार्यों पर गहरी नाराजगी व्यक्त किया एवं उत्कृष्ट रिजल्ट देने वाले विद्यालयों के प्राचार्यों की तारीफ भी की। समीक्षा में जिले के कई विद्यालय ऐसे पाये गये जहां पर विद्यालय में पदस्थ शिक्षकों की संख्या से भी कम संख्या में विद्यार्थियों ने प्री-बोर्ड की परीक्षा उत्तीर्ण किया है, वहीं कई ऐसे विद्यालय भी है जहां पर कम शिक्षक होते हुए भी शत-प्रतिशत रिजल्ट दिये हैं। नरहरपुर विकासखण्ड के पहाड़ी पर स्थित गांव हाई स्कूल रावस के प्राचार्य ने बताया कि उनके विद्यालय में शिक्षकों की कमी को देखते हुए उनके द्वारा विद्यालय में पदस्थ लिपिक एवं भृत्य की सहमति लेकर उनसे भी शैक्षणिक कार्य लिया गया, इसके अलावा अपने पुत्र से भी विद्यालय के बच्चों को पढ़ाने के लिए सहयोग लिया गया, इसका बेहतर परिणाम निकला और विद्यालय के सभी बच्चे दसवीं प्री-बोर्ड की परीक्षा में उत्तीर्ण हुए हैं। कलेक्टर द्वारा उनके इन प्रयासों की जमकर तारीफ की गई तथा अन्य प्राचार्यों को भी उनसे प्रेरणा लेने कहा गया।
हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों के प्राचार्यों को निर्देशित करते हुए कलेक्टर ने कहा कि पढ़ाई के प्रति प्राचार्यों एवं शिक्षकों में जुझारूपन होना चाहिए। विद्यालय के प्राचार्य एवं शिक्षक आपस में अच्छा समन्वय स्थापित कर उपलब्ध संसाधनों का बेहतर उपयोग करते हुए उत्कृष्ट रिजल्ट दें। विद्यार्थियों को रोचक ढंग से पढ़ायें, उनमें लिखने की आदत डालें, नियमित रूप से पढ़ाई करायें तथा परीक्षा में प्रश्नों के उत्तर लिखने के लिए टाईम मेनेजमेंट सिखायें। अच्छा एवं खराब रिजल्ट देने वाले विद्यालयवार समीक्षा किया तथा आगामी प्री-बोर्ड परीक्षा के लिए जमकर तैयारी करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी राकेश पाण्डेय, राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला समन्वयक आनंद गुप्ता एवं आरपी मिरे, तीनों विकासखण्डों के शिक्षा अधिकारी भी मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close