Breaking

नवागांव का उपस्वास्थ्य केंद्र हो रहा है जर्जर, मरम्मत के लिए कई बार कराया गया अवगत फिर भी इस ओर किसी का ध्यान नही

संजय शेन्डे औंधीं- औंधी से नौ किलोमीटर दूर है ग्राम पंचायत नवागांव वर्ष 2014 में बना ऐ है उपस्वास्थ्य केंद्र नवागांव बरसात में उपर से सिपेज होता है और जमीन से भी सिपेज होता है वही कैलाश सिंह अहिरवार आर,एच,ओ  ने बताया कि मैं सात साल से यहां उपस्वास्थ्य केंद्र नवागांव में हूं सरपंच अनिला उसारे सचिव साधुराम मंडावी को बार-बार अवगत कराया कि उपस्वास्थ्य केंद्र पुरी तरह से जर्जर हो चुका है। और बी, ओ,मो, तथा सी,ई ओ  को  उपस्वास्थ्य केंद्र का जर्जर होने की जानकारी दिया गया था, पर भी इस ओर ध्यान नही दिया जा रहा है। कैलाश सिंह अहिरवार ने कहा है मैं अपनी जिंदगी और मौत से खेलकर लोगों की सेवा दे रहा हूं  सिलींन पखां भी टुट कर गिर गया है नवागांव में झोलाछाप डॉक्टर से इलाज किया करते हैं यहां कोरोना चेक के डर से आते नहीं है और झोलाछाप डॉक्टर से इलाज करते हैं बाजार के पास बोरींग चार साल से बिगड़ा हुआ है ग्राम पंचायत नवागांव सरपंच सचिव ध्यान नहीं देते है बाजार में आने जाने वालों को पानी की बड़ी परेशानी उठानी पड़ती है बाजार से लगा शासकीय उचित मूल्य दुकान है  चार साल से बिजली के पोल गढ़े गए हैं दिखावे के लिए पोल में  बिजली तार लगा ही नहीं है नवागांव में चार झोलाछाप डॉक्टर है वहीं लोग दवाखाना जाने से मना करते हैं और खुद इलाज किया करते हैं उपस्वास्थ्य केंद्र नवागांव को देखने से पता चलता है कि सदियों से पुराना खंडर नजर आता‌ है कोरोना काल में भी लगता है बाजार में भी बीना मास्क पहने हुए लोग बाजार करते हैं नवागांव में लाकडाउन का कोई असर नहीं नजर आता है सरपंच, सचिव पुरी तरह से बेपरवाह नजर आ रहे हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close