Breaking

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी का बजट मुख्य रूप से ” गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ के मूल मंत्र में समाहित भावनाओं को आगे बढ़ाते हुए प्रदेश को हर क्षेत्र में नई ऊंचाईयों पर ले जाने वाला है- डॉ रश्मि चंद्राकर

रायपुर- आज  मुख्यमंत्री द्वारा वर्ष 2021-22 का बजट प्रस्तुत किया जिस पर जिला कांग्रेस कमेटी महासमुंद अध्यक्ष डॉ रश्मि चंद्राकर ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बताया कि यह बजट मुख्य रूप से ” गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ ” के मूल मंत्र में समाहित भावनाओं को आगे बढ़ाते हुए प्रदेश को हर क्षेत्र में नई ऊंचाईयों पर ले जाने वाला है। यह बजट राज्य के किसानों व आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों की समृद्धि, गावों की आर्थिक प्रगति शिक्षा में गुणवत्ता एवं प्रगति के नये आयाम, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़े वर्गों के कल्याण, महिलाओं एवं बच्चों के सर्वागीण विकास, युवाओं को रोजगार एवं उद्यमिता के नवीन अवसरों के सृजन, ग्रामीण एवं शहरी अधोसंरचना को तेजी से विकसित करने तथा जनता के लिए संवेदनशील प्रशासन की भावना के साथ प्रदेश के लोगों को समर्पित है। बजट में महासमुंद जिला को विशेष ध्यान में रखते मेडिकल कॉलेज एवं बालक बालिका छात्रावास निर्माण के लिए भी राशि आवंटित किया गया है। पिछले साल भारी चुनौती वाला रहा शासन प्रशासन के सतर्कता के वजह से छत्तीसगढ़ में इसका प्रभाव उतना ज्यादा नहीं था। मनरेगा, सुपोषण और कोरोना संक्रमण के रोकथाम के दिशा में छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने बहुत ही सुंदर ढंग से काम किया। प्रवासी मजदूरों को राहत के लिए कई उपाय किए गए उनके लिए मनरेगा से रोजगार उपलब्ध कराया गया। छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार ने गोधन न्याय योजना की शुरुआत की इस योजना से नए रोजगार और पशुपालकों को लाभ भी हुआ। भूपेश सरकार ने गोधन न्याया योजना से 80 करोड़ रुपए का गोबर खरीदा जिससे कंपोस्ट खाद बनाकर फिर से किसान भाइयों के खेतों में उपयोग किया जाएगा। डॉ रश्मि चंद्राकर ने आगे कहा की छत्तीसगढ़ सरकार का यह आम बजट समाज के सभी वर्गों को समृद्ध व सशक्त करने वाला है। गाँव , गरीब और किसान के निर्माण के प्रति भूपेश सरकार की प्रतिबद्धता इस बजट में प्रत्यक्ष रूप से दिखाई देती है । जिला कांग्रेस कमेटी महासमुंद इस बजट का स्वागत करते हुए कांग्रेस भवन में एक दूसरों को मिठाई खिलाकर छत्तीसगढ़ के यशस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी का आभार प्रकट किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close