Breaking

आखिर डोंगरगांव में किसके इशारे पर चल रहा है रेत खनन, आढ़ाम, साकरदरा, जामसरार, ये तीनो गाँव मे चल रहा है रेत का अवैध खनन- नवीन अग्रवाल

महेंद्र शर्मा बंटी डोंगरगढ़-  जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के कोर कमेटी के सदस्य नवीन अग्रवाल ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि डोंगरगांव  जामसरार नदी की घटना के बाद भी कांग्रेस सरकार ने सबक लेने के बजाय तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले पर लीपापोती कर दी गई जिसके चलते रेत माफियाओं के हौसलें और बुलंद हो गए हैं। डोंगरगांव के ही आढ़ाम, साकरदरा और जामसरार तीनों गांवो में खुलेआम धरती का सीना चीरकर अवैध रेत का खनन किया जा रहा है। जिसे देखकर भी खनिज विभाग एवं स्थानीय प्रशासन मूक दर्शक बना हुआ है। आखिर किसके इशारे मे डोंगरगांव क्षेत्र में रेत का यह खेल चल रहा है क्योंकि जामसरार की घटना ने यह तो साबित कर दिया है कि रेत माफियाओं को राजनीतिक सरंक्षण प्राप्त है, आखिर वह सफेदपोश नेता सत्ताधारी दल का है या विपक्षी दल का।
नवीन अग्रवाल ने बताया कि आज राजनांदगांव जिले में बेधड़क और बेखौफ होकर रेत माफियाओ के द्वारा बड़ी मात्रा में रेत चोरी करके बाजार में बेची जा रही है जिसे पत्रकार जगत द्वारा लगातार अपनी कलम के माध्यम से शासन प्रशासन को अवगत कराया जा रहा है उसके बावजूद कोई भी अधिकारी कार्यवाही करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है जो यह दर्शाता है कि अधिकारियों को पता है कि रेत माफियाओं को किसका सरंक्षण प्राप्त है।
वही  नवीन अग्रवाल ने बताया कि कुछ ऐसा ही हाल मुड़पार नदी का है जहां पर रोजाना बड़ी मात्रा में रेत माफियाओं द्वारा अवैध रेत का खनन कर बाजार में बेचा जा रहा। इससे संबंधित समाचार पत्रकार द्वारा प्रकाशित किया गया था उसके बावजूद अब तक उस प्रकरण में भी अधिकारी द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई।यदि जल्द ही जिले में बढ़ अवैध रेत खनन पर रोक नहीं लगाई गई तो जनता कांग्रेस के द्वारा उग्र आंदोलन किया जावेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close